Press "Enter" to skip to content

JAH अस्पताल में खराब हुई लिफ्ट, 3 घंटे तक अंदर ही फसे रहे नानी और पोता

ग्वालियर न्यूज, ग्वालियर डायरीज:  ग्वालियर के JAH अस्पताल में बार बार लिफ्ट खराब होना एक आम बात हो गई है लेकिन अस्पताल प्रशासन ने इसपर अच्छी तरह कभी ध्यान ही नही दिया, जिसका खामयाजा एक 70 वर्ष की वृद्धा को लगभग 3 घंटे तक लिफ्ट में फसे रह कर चुकाना पड़ा है ।

 

कूल्हे में परेशानी होने के कारण उस 70 वर्षीय वृद्धा, जिसका नाम यशोदा बाई बताई जा रही है , को JAH में भर्ती कराया गया था। भर्ती कराने के बाद उनकी देखभाल के लिए रात को यशोदा का नाती उनके साथ ही रुका था, नाती का नाम प्रकाश बताया गया है।

 

यह घटना तब घटी जब प्रकाश अपनी नानी का एक्स रे करवा कर वापस जा रहे थे, 70 वर्षीय वृद्धा को सीडी चढ़ने में परेशानी होने के कारण दोनो ने लिफ्ट से जाना ही ठीक समझा और दोनो लिफ्ट में सवार हो गए, लेकिन लिफ्ट बीच रास्ते में ही रुक गई, उस समय रात के 11:30 PM बजे रहे थे और रात होने के कारण लोगो की उतनी मौजूदगी थी नही की कोई मदद कर सके।

 

लिफ्ट में मौजूद प्रकाश ने 1 मिनट की भी देरी नहीं करते हुए, तुरंत ही डायल 100 पर फोन किया, उनको अपनी सारी बात बताई और मदद मांगा। डायल 100 के स्टाफ आरक्षक दीपक अहिरवार, आरक्षक विनोद गहलोद और चालक दीपक नागवंशी बिल्कुल भी देर नही करते हुए , मौके पर पहुंचे । और लिफ्ट के अंदर फसे दादी और पोते को बचाने का काम शुरू किया। उन लोगों ने बहुत कोशिश की लेकिन लिफ्ट ठीक नही कर सके, लेकिन उन्होंने लिफ्ट का फैन किसी तरह चालू किया ताकि अंदर मौजूद नानी और पोते को घुटन नही हो। लिफ्ट के रेगुलर मैकेनिक को डायल 100 के लोगो ने काफी बार फोन किया लेकिन कोई उतर नही मिला, जिसके बाद डायल 100 के एक टीम ने खुद ही एक मैकेनिक को बुला कर लाया , जिसने लिफ्ट ठीक किया, यह सब करते करते रात के 2:30 AM बज गए, यानी की यशोदा और उनका पोता प्रकाश लिफ्ट में करीब 3 घंटे तक फसे रहे जिसके बाद उन दोनो को सकुशल बाहर निकल लिया गया।

 

यह भी पढ़े:

More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.