Press "Enter" to skip to content

High Court की चेतावनी: 5 दिन के भीतर Gwalior KRH में हालत सुधारे कर रिपोर्ट जमा करे

ग्वालियर न्यूज, ग्वालियर डायरीज: ग्वालियर हाई कोर्ट की मेन बेंच (Jabalpur) ने Kamala Raja Hospital पर शख्त हुआ दिख रहा है, जिसमे कोर्ट की तरफ से हॉस्पिटल की कार्य प्रणाली और सिस्टम में सुधार करने के लिए कहां गया है। 

MP ByPoll: खंडवा से चुनाव नही लड़ेंगे कांग्रेस के Arun Yadav

क्या हुआ है पिछले दिनों ?

दरअसल कुछ दिनो पहले हॉस्पिटल में दिमाग से जुड़ी फीवर और अन्य डिजीज के चलते बच्चो की मौत हो गई थी, साथ ही यह भी देखा गया था की एक ही बेड पर 3-3 बच्चे लेते हुए थे, इन सब को देखते हुए हाई कोर्ट ने यह निर्णय लिया है।

यह क्या नेताजी? कांग्रेस विधायक ने लगाया नारा, Priyanka Gandhi मुर्दाबाद

क्या कहना है हाई कोर्ट का इस पर?

हाई कोर्ट ने साफ शब्दों में यह स्पष्ट कर दिया है की अगले 5 दिनो के अंदर KRH के बाल एवं शिशु विभाग के प्रणाली में बदलाव और अपग्रेड करे। साथ ही हर बच्चो को अलग बेड की व्यवस्था की जाए, जिसके लिए न्यू बेड इंस्टॉल किए जाए और 5 दिनो के बाद कोर्ट को पूरी रिपोर्ट दी जाए की क्या क्या बदलाव की गई इन 5 दिनो में, इस मामले की सुनवाई 8 OCT को है। 

शराबी ने लांघ दी रिश्ते की सीमाएं, 12 साल की बेटी को नग्न कर पैग बनाए, पत्नी को बुरी तरह पीटा

क्या क्या शिकायते मिली है हाली के दिनो मे ?

  • किसी भी बच्चे की पहले जांच हो फिर इलाज की जाए, बिना जांच के ही उपचार की जाने की घटना देखने को मिली जिसमे 11 वर्ष के लड़के ने अपनी जान गवां दी।
  • यह भी शिकायत मिली है की अगर किसी की तबियत बिगड़ रही है तो उसे बिना मतलब के खून की बॉटल चढ़ा दे रहे है।
  • बेड है ही नही।
  • अगर किसी की मौत होती है तो उसके मौत के वजह जानना बेहद ही जरूरी हो जाता है जिससे यह पता चल सके आखिर वो मरा क्यूं।

 

 

More from Madhya PradeshMore posts in Madhya Pradesh »
More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.