Press "Enter" to skip to content

आज है जयविलास म्यूजियम में कार्निवाल, देश-विदेश के लोग उठा पाएंगे इसका लुफ्त

ग्वालियर न्यूज, ग्वालियर डायरीज: एक अगस्त यानी रविवार के दिन जयविलास पैलेस का म्यूजियम को फिर एक बार लोगो के लिए खोला जा रहा है। कोविड महामारी के चलते बहुत समय से बंद रहे इस म्यूजियम में आज के दिन एक कार्निवाल का आयोजन भी किया गया है। आज के दिन आयोजन किए जाने वाले कार्निवाल का थीम ग्वालियर पर ही होगा, जिसका मुख्य उद्देश ग्वालियर-चंबल अंचल के स्वाद, संस्कृति और कला को लोगो दर्शाना है। अगर आप को ग्वालियर-चंबल अंचल के स्वाद, संस्कृति और कला से लगाव है तो यह आपके लिए किसी जादू से कम नहीं होगा।

इस पूरे कार्निवाल का आयोजन खुद जयविलास म्यूजियम की ट्रस्टी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया के देखरेख में हो रहा है। इस कार्निवाल का मुख्य उद्देश्य ग्वालियर के कला, संस्कृति, रहन सहन, खान पान इत्यादि को लोगो के बीच लाना हो गया , साथ ही ग्वालियर चंबल अंचल के युवा प्रतिभाओं को भी इसमें अपनी कला और प्रतिभा को दिखाने का मौका दिया जायेगा।

इस कार्निवाल में काउंटर लगाए जाएंगे ताकि इन काउंटरों पर लोग आसानी से जा सके और इस पूरे कार्निवाल का अच्छे से लुफ्त उठा सके। जानकारी के अनुसार कुल 35 काउंटर लगाए जा सकते है जिसमे विभिन्न प्रकार के कला, संकृति, इत्यादि का प्रदर्शन किया जायेगा, लेकिन सभी का आधार ग्वालियर चंबल अंचल पर ही होगा।

जयविलास म्यूजियम की ट्रस्टी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया, गायत्री सिंह और वसुंधराराजे गायकवाड़ ने मीडिया से बात करते हुए 22 जुलाई को यह बताया है की 30-35 काउंटर इस कार्निवाल में लगाए जायेंगे जिसमे ग्वालियर चंबल अंचल के कला, संस्कृति के साथ साथ खाने पीने (खानपान) पर दिखाने का प्रयास किया जाएगा इसके आलावा कार्निवाल देखने आए लोग एक से एक स्वादिष्ट खाने , ट्रेडिशनल कपड़े, वर्कशॉप और साथ ही म्यूजिक का भी लुफ्त उठा सकेंगे, क्योंकि इनका भी आयोजन कार्निवाल में किया गया है । उन 35 काउंटरों में से अम्मा की रसोई, एरिका एग्रोटेक, कवि पुष्प, मिशन ऑर्गेनिक प्लानेट कुछ खास नाम है जिन पर विशेष ध्यान रहेगा।

 

यह भी पढ़े:

More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.