Press "Enter" to skip to content

SP ऑफिस को बम से उड़ाने की धमकी, निकली फर्जी

घटना 5 जुलाई की सोमवार की सुबह की हैं। सुबह सुबह एक कॉल आता है और मच जाता है पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप आखिर ऐसा क्या था उस फोन कॉल में ? असल में फोन में पुलिस ऑफिसर को यह बोला जाता है की “मैंने एसपी ऑफिस में बम प्लांट कर दिया है जो कभी भी फट सकता है।”

सैनिकों को ले जा रहा plane हादसे का शिकार

इतना सुनते हैं पुलिस वाले दंग रह जाते है और उन्हें समझ में नही आता की यह एक फेंक कॉल है या फिर किसी ने सच में बॉम्ब प्लांट कर दिया है खैर पुलिस वालो की यह उलझन भी कॉलर ने ही दूर कर दिया अपने अगले वाक्य से, उसने पुलिस को फोन पे यह कहा की “पुलिस ऑफिस के गेट के बाहर कोई सुरक्षा नहीं है नाह ही किसी प्रकार की चेकिंग चल रहीं है ऐसे में कोई भी प्रवेश आसानी से कर सकता है और कुछ भी कर सकता है , उसने भी ऐसे ही प्रवेश किया तथा उसका मकसद एसपी ऑफिस में बम लगाना था जोकि उसने लगा दिया और बस अब फटने की देर है” इतना सुना था की पूरे पुलिस महकमे के होश उड़ गए।

तैयारी में रह गई कमी, flop हो गया टीकाकरण अभियान

तत्काल रूप से अन्य ऑफिसर को आगाह किया गया था और तुरंत बम डिस्पोजल स्क्वॉड को बुलाया गया। जो पुलिस ऑफिसर उस समय राउंड पे थे तत्काल रूप से एसपी ऑफिस पहुंचे। कुछ ही समय में और पुलिस बल के कई ऑफिसर अपने पूरी तयारी के साथ पहुंच गए। हैरत की बात यह है की वहा पर उन्हें एक युवक परिसर में टहलता हुआ दिखाई दिया जिसे तुरंत पुलिस ऑफिसरों ने हिरासत में ले लिया , युवक काफी नशे की हालत में था लेकिन पूछताछ करने पर उसने यह बात स्वीकार कर ली की उसने ही फेक कॉल करी थी आगे पूछताछ में यह भी पता चला कि युवक मानसिक रूप से बीमार है, और साथ ही युवक नशे का भी आदि है ऐसे में पुलिस ऑफिसरों ने उसे वार्निंग देकर छोड़ दी l

ग्वालियर पुलिस को पता भी नहीं चला और क़ैदी उनके नाक के नीचे से क़ैदी भाग गया

पूरी घटना पर पुलिस ऑफिसर ने यह बताया कि एसपी कार्यालय की कुल 2 गेट है एक को शाम होते ही बंद कर दिया जाता है और दूसरे में पुलिस ऑफिसर का आना जाना लगा हो रहता है साथ ही उस गेट पर पुलिस कर्मी हमेशा रहते है तो हो सकता है की रात का अंधकार का फायदा उठा कर वो व्यक्ति अंदर घुस गया हो । अब युवक कब अंदर आया और कैसे इसकी पुख्ता जानकारी तो सीसीटीवी फुटेज देख कर ही पता चलेगा और जब युवक अंदर आया तो सुरक्षाकर्मी आखिर कर उस समय थे कहा।

 

More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.