Press "Enter" to skip to content

वैक्सीन की कमी ? पहली डोज आज भी नही लगेगी

अगर आप ग्वालियर में रहते है और आज के दिन सोच रहे है की आप शहर के किसी वैक्सिनेशन केंद्र में जाकर वैक्सीन की पहली डोज ले लेंगे तो यह खबर आपके लिए है।

हम आपकों बड़ी खेद के साथ बता रहे है की आज भी आपको वैक्सीन की दूसरी डोज ही मिल पाएगी अर्थात् अगर आप पहली डोज ले चुके है और आपका दूसरी डोज लेने का समय हो गया तब ही आप को आज के दिन वैक्सीन मिल पाएगी लेकिन अगर आपने वैक्सीन की पहली डोज चाहिए तो वो आज नही मिल पायेगी।

अगस्त में आएगी कोरोना की तीसरी लहर, SBI का दावा

हम आपको बता दे की प्रशासन के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आज लगभग 16 हजार कोविड 19 की वैक्सीन उपलब्ध रहेगी तथा वैक्सिनेशन के लिए 69 वैक्सीनेशन केंद्र का उपयोग किया जायेगा । लगभग 16 हजार उपलब्ध वैक्सीन में लगभग 12 हजार वैक्सीन कोविशील्ड और 4 हजार वैक्सीन कोवैक्सीन की रहेगी। जिस व्यक्ति को पहले (पहली डोज में) जो वैक्सीन दी गई है उसी के अनुसार ही दूसरी डोज दी जाएगी। करीब 40 सेंटर पर कोवैक्सीन उपलब्ध रहेगी, अगर आपको कोवैक्सीन चाहिए तो लाइन में लगने से पहली एक बार वैक्सिनेशन केंद्र में जरूर से कन्फर्म कर ले की कोवैक्सीन उपलब्ध है की नही।

तैयारी में रह गई कमी, flop हो गया टीकाकरण अभियान

हमे मिली जानकारी के अनुसार वैक्सीन प्रयाप्त मात्रा में उपलब्ध नही होने के करना वैक्सिनेशन की रफ्तार धीमी पड़ गई है। बीते 6 दिनों से एक भी व्यक्ति को वैक्सीन की पहली डोज भी नही लगा है । अंतिम शनिवार के दिन भी केवल कोवैक्सीन ही उपलब्ध थी वो भी सिर्फ दूसरी डोज यानी जो लोग भी पहले डोज लेने आए उनको तो खाली हाथ बिना टीका लिए वापस जाना ही पड़ा उनके साथ जो कोविशील्ड की दूसरी डोज लेने आए थे उनको भी वापस लौटना पड़ा था ऐसे में लोग काफी नाराज़ हुए थे। उसके बाद सोमवार के दिन भी सिर्फ दूसरी डोज ही दी गई हालाकि इस बार कोवैक्सीन और कोविशील्ड दोनो ही उपलब्ध थी लेकिन वैक्सिनेशन केंद्रो में वैक्सीनेशन स्टार्ट होने के सिर्फ 4 घंटो में वैक्सीन खत्म हो गया ऐसे में वैक्सिनेशन की रफ्तार धीमी पड़ना स्वाभाविक है।

देश मे फिर से हो सकती है वैक्सीन की कमी, केंद्र सरकार ने लिया यू-टर्न 

सरकार के भरोसा दिलाया है की जैसे से वैक्सीन उपलब्ध हो जायेगी वैसे ही पहली डोज भी देना फिर से शुरू कर देंगे लेकिन तब तक पहली डोज वाले को इंतजार करना पड़ेगा। फिलहाल सरकार इस विषय पर चिंतन कर रहीं है की क्या पहली और दूसरी डोज के बीच समय के अंतर को कम किया जा सकता है।

 

More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.