Press "Enter" to skip to content

Women Corner: महिलाए बन रही है आत्मनिर्भर, अब थामेगी गाड़ी की स्टेरिंग

ग्वालियर न्यूज, ग्वालियर डायरीज: एक माह पूर्व विशेष कर महिलाओ के लिए शुरू किया गया ड्राइविंग क्लासेज गुरुवार 30 सितंबर को पूरा हुआ। इस प्रोग्राम के अन्तर्गत महिलाओ को गाड़ी चलाने का प्रशिक्षण दिया गया।

इस प्रशिक्षण के महत्वपूर्ण जानकारी क्या रही ?

  • यह प्रशिक्षण 1 महीने के लिए पालिटेक्निक कालेज में चला
  • इसके समाप्ति के दौरान कैंडिडेट को ड्राइविंग लाइसेंस तथा प्रमाण पत्र दिए गए
  • इस प्रशिक्षण में 30 महिलाओ ने भाग लिया जबकि इस प्रशिक्षण का टारगेट 150 महिलाओ का था।
  • एक महीने के बाद महिलाओ के नियमित लाइसेंस मिल जायेगा
  • एक वर्ष पूरे होने पर यह लाइसेंस बिजनेस क्लास में बदल दिए जाएंगे।

महिला टीचर को पहले बेहोश किया, फिर की लूट पाट

कब बनेगा अगला बैच?

  • इस प्रशिक्षण का टारगेट है की 150 महिलाओ को ड्राइविंग सीखाना, जिसमे लगभग अब तक 30 महिलाओ ने भाग लिया तथा गाड़ी चलाना सीख चुकी है।
  • अब अगले बैच शुरू करने के लिए रजिस्ट्रेशन इसी महीने शुरू होंगे, जिसमे फिर से 30 महिलाओ को लिया जायेगा।
  • ऐसे कर के यह कुल 5 महीनो का प्रोग्राम है जिसमे हर महीने 30 महिलाओ को ड्राइविंग सिखाई जाएगी।

क्या कहना है महिलाओ का ड्राइविंग सीखने के बाद ?

महिलाओ का कहना है की इस युग में हर Skill बेहद ही जरूरी है , क्या पता जीवन के किस मुकाम पर क्या काम आ जाए। इसलिए बेहेतर होगा की हम खुद को डेवलप करे, नई skill सीखे। यह प्रोग्राम महिलाओ को ट्रांसपोर्टेशन बिजनेस से जोड़ने के लिए बनाया गया है और अगर इसमें जॉब नहीं भी मिलती है तो महिलाए खुद का वाहन चला। कर जीविका पालन कर सकती हैं।

ट्रेनिग पूरे होने पर कुछ महिलाओ ने GD की टीम से क्या कहा?

रागिनी शर्मा
रागिनी शर्मा
प्रिया चंदेरिया
प्रिया चंदेरिया

 

More from ग्वालियर न्यूजMore posts in ग्वालियर न्यूज »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.